आत्महत्या के लिए प्रेमिका को मजबूर करने वाला प्रेमी पुलिस के शिकंजे में

438

धमतरी | शहर के एक निजी अस्पताल में परिसर स्थित आवास में काम करने वाली कुमारी सुलोचना केमरो पिता रामसहाय केमरो उम्र 22 वर्ष केंवटी थाना भानूप्रतापपुर जिला कांकेर ने 10 जून को आत्महत्या कर ली थी | पुलिस ने इस मामले में आत्महत्या के लिए मजबूर करने वाले प्रेमी को  गिरफ्तार  कर लिया है | पुलिस अधीक्षक बी.पी. राजभानु ने मृतिका द्वारा आत्महत्या करने के कारणों का सुक्ष्मता पूर्वक जांच कर विधिवत कार्यवाही करने निर्देशित किया गया। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन व उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय अरुण जोशी के पर्यवेक्षण में बारीकी से सभी तथ्यों पर उक्त मर्ग की जांच की जा रही थी। मर्ग जांच के दौरान सुलोचना के रहन-सहन, उसके व्यवहार, गवाहों के कथन व बारीकी से मार्ग जांच पर ज्ञात हुआ कि सुलोचना का प्रेमी ग्राम सहकट्टा निवासी अनिल कोला उसे दूसरे लड़के से बात करने से मना करता था |

इसी बात पर आए दिन झगड़ा विवाद करता था। साथ ही मोटरसाइकिल खरीदने के लिए सुलोचना से पैसों की मांग करता था, पैसा नहीं देने पर घर-परिवार व रिश्तेदारी में बदनाम करने की धमकी देता था।  जिससे  परेशान होकर सुलोचना ने  फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मर्ग जांच के दौरान गवाहों के कथन एवं उपलब्ध साक्ष्य के आधार पर मृतिका के प्रेमी अनिल कोला द्वारा लगातार प्रताड़ित कर मृतिका को आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करना पाए जाने पर थाना सिटी कोतवाली धमतरी में  16 सितम्बर को आरोपी अनिल कोला के विरुद्ध धारा 306 भादवि के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया। वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश पर थाना प्रभारी सिटी कोतवाली भावेश गौतम द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी हेतु टीम तैयार कर  अनिल कोला को गिरफ्तार करने रवाना किया गया। पुलिस टीम ने  द्वारा आरोपी के  घर  में दबिश देकर अनिल कोला पिता फागन राम कोला उम्र 23 वर्ष साकिन ग्राम सहकट्टा थाना भानूप्रतापपुर जिला कांकेर को गिरफ्तार किया |  वैधानिक कार्यवाही कर माननीय न्यायालय से न्यायिक रिमांड प्राप्त कर जेल दाखिल किया गया है|