1 जनवरी को पूरे देश के एनपीएस कर्मचारी काला दिवस मनाएंगे , एनपीएस का विरोध करेंगे ।

319

धमतरी। 1 जनवरी को पूरे देश के एनपीएस कर्मचारी काला दिवस मनाएंगे काली पट्टी व काला मास्क लगाकर एनपीएस का विरोध करेंगे ।
राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के धमतरी जिला के संयोजक डॉक्टर भूषण लाल चंद्राकर, प्रदेश सह संयोजक देवनाथ साहू एवं शैलेंद्र पारीक ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि 1 जनवरी 2004 को पूरे देश में पुरानी पेंशन के स्थान पर नवीन अंशदाई पेंशन योजना लागू किया गया था एनपीएस रूपी काले कानून को वापस लेने के लिए राष्ट्रीय पुरानी पेंशन बहाली संयुक्त मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीपी सिंह रावत राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संजय शर्मा के नेतृत्व में 1 जनवरी 2021 को काली पट्टी व काला मास्क लगाकर काला दिवस मनाएंगे एवं पुरानी पेंशन बहाली की मांग को सरकार तक नए अंदाज में पहुंचाने के लिए पीएमओ को टेग करके ट्विटर अभियान चलाएंगे जिला सहसंयोजक बलराम तारम, रामदयाल साहू नंदकुमार साहू, तीरथ राज अटल, गणेश प्रसाद साहू, रूखमणी रमन चंद्राकर, कैलाश प्रसाद साहू ,श्रीमती बी यदु श्रीमती सविता छाटा मंजूषा साहू ने बताया कि इस बार पुरानी पेंशन बहाली की मांग को लेकर नववर्ष के दिन एनपीएस कर्मचारियों में जागरूकता व एकजुटता का संदेश देते हुए कर्मचारी प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री जी तक सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी मांग को पहुंचाएंगे जिला संयोजक डॉ भूषण लाल चंद्राकर ने विस्तृत जानकारी देते हुए कहा कि केंद्र सरकार ने 2004 में पुरानी पेंशन योजना को बंद कर नवीन अंश दायीं पेंशन प्रारंभ की तब बताया गया था कि कर्मचारियों को इससे लाभ मिलेगा ।लेकिन इसकी सच्चाई को समझते हुए यह योजना कार्यपालिका के लिए लागू कीया गया जबकि विधायिका के लिए पुरानी पेंशन ही रखा गया इस प्रकार एक ही देश में भेदभाव पूर्वक दो प्रकार के पेंशन व्यवस्था लागू की गई जिससे 2004 के बाद नियुक्त हुए कर्मचारी बाजार की भेंट चढ गई ।सेवानिवृती के बाद उन्हें 1000 से डेढ़ हजार रूपये का नाम मात्र के पेंशन प्राप्त हो रहा है जिससे जीवन निर्वाह मुश्किल है । वही विधायिका पुरानी पेंशन का लाभ लेकर अपनी जिंदगी सुकून से जी रहा है । 1 जनवरी 2021 को एनपीएस काला दिवस के रूप में मनाते हुए देश भर के 60 लाख एनपीएस कर्मचारी एवं छत्तीसगढ़ राज्य से 280000 कर्मचारीयो के साथ धमतरी जिला के छत्तीसगढ़ टीचर्स एसोसिएशन के समस्त पदाधिकारी एवं सदस्य सम्मिलित होकर राज्य सरकार व केंद्र सरकार से पुरानी पेंशन बहाली की मांग करेंगे।
उक्त कार्यक्रम में जिले की ओर से प्रदीप साहू ,डाॅ आशीष नायक,संजय साहु, रविशंकर साहु, नवीन जाचक, खम्हन लाल साहु, शेखर साहू फणेन्द्र शांडिल्य,योगेश्वर सिन्हा, राधे लाल साहू, कोमल सोरी, कौशल चंद्राकर,खम्हन लाल गंजीर, लेखन नागरची, डोमार सिंह ध्रुव, राजेन्द्र यादव, जितेन्द्र परमार, दिनेश जाटव, प्रमोद चन्द्राकर, खुबलाल साहु, शिवेन्द्र तिवारी, महादेव साहु, राकेश साहु, पंचराम ध्रुव, टीकेश्वर पाण्डेय, महेश कोसरे, मूल चंद मारकण्डे रामप्रसाद नाग, लीलाराम कुर्रे, दीनानाथ पाण्डे, आत्माराम साहु, प्रफुल्ल सिंह, एवं जिले के चारों ब्लाक से शैलेन्द्र कौशल, गेवाराम नेताम, दिनेश कुमार साहु,रमेश कुमार यादव , प्रमोद सिन्हा, ज्ञानेश्वर सिन्हा, टीकमचंद सिन्हा,अशोक कुमार साहु, वीरेन्द्र साहु, गुहाराम निषाद, तोमल साहु,शेषनारायण साहु एवं अन्य पदाधिकारी, महिला प्रकोष्ठ पदाधिकारी सहित बड़ी संख्या में एन पी एस कर्मचारी सम्मिलित होंगे।