केजरीवाल सरकार का फैसला : दिल्ली में मास्क नहीं पहना तो लगेगा 2000 रुपये का जुर्माना

106

नई दिल्ली| दिल्ली में कोरोना के आंकड़े बेतहाशा बढ़ने पर नई सख्ती की तैयारी है. शादी में मिली छूट को वापस लेने के बाद अब मास्क ना पहने वालों को अब 2000 तक जुर्माना देना पड़ सकता है. मुख्यमंत्री सीएम अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल से इस बारे में बात की है. पहले मास्क ने पहनने पर 500 रुपये का जुर्माना था. सीएम अरविंद केजरीवाल ने  कहा कि अब दिल्ली में अगर कोई मास्क नहीं पहनेगा तो उसके ऊपर 2000 रुपये का जुर्माना लगाया जाएगा. अभी तक 500 रुपये का जुर्माना होता था. इसके साथ ही सीएम केजरीवाल ने विपक्ष से कोरोना के वक्त राजनीति न करने और दिल्लीवासियों से घर पर ही छठ पर्व मनाने की अपील की है. सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि यह वक्त राजनीति करने का नहीं है.

यह समय सेवा करने का है, जितनी हम सेवा करेंगे लोगों की, उतने लोग हमें याद रखेंगे. भविष्य में लोग याद करेंगे कि कैसे दिल्ली ने कोरोना की लड़ाई लड़ी थी. सभी दलों ने सहमति जताई कि हम सब मिलकर कोरोना की लड़ाई लड़ेंगे. सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा के आयोजन पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम चाहते हैं, भाई-बहन छठ पूजा बहुत धूमधाम से मनाएं, लेकिन ख्याल रखें. एक संक्रमित से सभी लोग कोरोना संक्रमित हो सकते हैं. अगर कोई छठ घाट पर जाता है और वह कोरोना संक्रमित रहता है तो पानी के जरिए सभी लोग संक्रमित हो सकते हैं. सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि हम चाहते हैं कि लोग धूमधाम से छठ मनाएं, लेकिन सार्वजनिक जगहों पर छठ न मनाएं. कई राज्य सरकारों ने इस पर प्रतिबंध लगाया है. हम भी चाहते हैं कि कोरोना मत फैले, इसलिए आप लोगों से निवेदन है कि छठ को घर पर ही मनाएं.  सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के सभी प्राइवेट अस्पतालों के 80 फीसदी बेड कोरोना के लिए आरक्षित किए जा रहे हैं. सभी नॉन-क्रिटिकल प्लान्ड सर्जरी को टालने के लिए कहा गया है. दिल्ली सरकार 663 आईसीयू बेड की व्यवस्था कर रही है, केंद्र सरकार 750 आईसीयू बेड की व्यवस्था कर रही है. कुल मिलाकर 1400 से अधिक आईसीयू बेड हो जाएंगे.