किसानों की मोटरसाइकिल की डिक्की से रकम उड़ाने वाले नट गिरोह का एक सदस्य गिरफ्तार, साथी फरार

228

कुरूद | कुरूद पुलिस एवं साइबर पुलिस की संयुक्त टीम ने थाना परिसर और अन्य स्थान से दो किसानों की मोटरसाइकिल की डिक्की से रकम उड़ाने वाले नट गिरोह के एक उठाईगिर को  गिरफ्तार किया है| उसका एक साथी  फरार है | एसपी बीपी राजभानु ने कुरूद में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में इस मामले  का खुलासा करते हुए बताया कि 24 नवंबर को सिंधौरीकला निवासी भुनेश्वर पटेल पिता नरेश पटेल 48 वर्ष अपने बेटे के साथ कुरूद स्थित जिला सहकारी केंद्रीय बैंक से ₹100000 निकालकर अपने बेटे की शादी का परमिशन लेने थाना आया था |

इसी दौरान थाना परिसर में खड़ी उनकी मोटरसाइकिल की डिक्की में रखे एक लाख रुपए को अज्ञात उठाईगिरोह ने पार कर दिया | प्रार्थी की रिपोर्ट पर धारा 379 का मामला दर्ज किया गया था | पुलिस कप्तान ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए उठाई गिरोह को पकड़ने के सख्त निर्देश दिए थे |उनके मार्गदर्शन में कुरूद पुलिस एवं साइबर सेल की संयुक्त टीम बनाई गई |टीम घटनास्थल के सीसीटीवी कैमरे के फुटेज के आधार पर आरोपियों के आने जाने के रूट को फालो करते हुए रास्ते में पड़ने वाले कैमरे को खंगालते हुए आगे बढ़ते गई | इसके अलावा दूसरे राज्यों से भी सोशल मीडियम के माध्यम से पतासाजी की गई| इस दौरान जिला रायगढ़, जांजगीर चांपा एवं जशपुर में दबिश देकर नट जाति के लोगों के ठिकानों को खंगाला गया| इस दौरान आरोपियों की पहचान मिथुन सिंह नट पिता स्वर्गीय आनंदराम नट 32 वर्ष साकिन कंडरजा पटनापारा थाना कापू जिला रायगढ़ एवं अमर उर्फ पप्पू नट हब्बुचंद नट उम्र 32 वर्ष दीवान पुर थाना पत्थलगांव जिला जसपुर छत्तीसगढ़ के रूप में हुई | टीम ने पत्थलगांव में घेराबंदी कर मिथुन सिंह को धरदबोचा | उसके कब्जे से उठाईगिरी में प्रयुक्त काले रंग की मोटरसाइकिल, 1 नग मोबाइल एवं बंटवारे में मिली रकम 55000 को बरामद किया गया | इसके बाद उसके साथी अमर के ठिकाने पर दबिश दी गई लेकिन उसके उत्तर प्रदेश कानपुर में होने की जानकारी मिली जिसकी तलाश की जा रही है| थाने में पूछताछ में आरोपी अमर ने 1 सितंबर को भी अपने साथी के साथ कुरूद में एक लाख की उठाई गिरी करना स्वीकार किया है| आरोपी को पकड़ने में एसपी बीपी राजभानु के निर्देश में एसडीओपी सारिका वैद एवं टीआई आरएन सेंगर के मार्गदर्शन में साइबर सेल धमतरी प्रभारी उप निरीक्षक नरेश कुमार बंजारे, प्रधान आरक्षक विजयपति, मुकेश मिश्रा, दीपक साहू, थाना कुरूद के प्रधान आरक्षक अश्वनी बंजारे एवं आरक्षक गोपाल चंद्राकर की भूमिका रही|